दिल्ली 20 मई: चलिए जानते है भविष्य के सौरभ गांगुली और गौतम गंभीर कहे जाने वाले नन्हें क्रिकेटर के बारे में जिसका नाम है शौर्या पंडित। यह महज 10साल के है लेकिन क्रिकेट के टैलेंट तो भरपूर है।

भविष्य के उभरते हुए सितारें है शौर्या पंडित जिसने अपने छोटे से उम्र में क्रिकेट में ऐसा बल्ले का जादू दिखाया कि बड़े-बड़े लोग जो क्रिकेट से जुड़े है इन्हें भविष्य का सौरव गांगुली या गौतम गंभीर बुलाते है।।

शौर्या पंडित मुख्य रूप से दिल्ली के रहने वाले है और इस बच्चे के उम्र महज 10 वर्ष है लेकिन क्रिकेट कि टैलेंट और क्लासिकल शॉर्ट्स खेलता है कि अच्छे अच्छे खिलाड़ी का मन मोह लेता है।

शौर्या पंडित प्रैक्टिस

शौर्या के पिता का नाम जितेन्द्र पंडित है यह एक विजन्स मैन है इनकी माता का नाम नेहा पंडित यह एक टीचर है इनके परिवार में एक बहन भी है दिक्शा पंडित,दादा और दादी है।

शौर्या के पिता ने खेल पत्रिका से कहा कि शौर्या क्रिकेट ही नही बल्कि पढ़ाई में भी बहुत तेज़ है। पिता ने बताया कि शौर्या जब 7 साल का था तबसे क्रिकेट खेलना शुरू किया था अभी वह 10 साल का इन तीन सालों में बहुत से टूर्नामेंट खेले अंडर-12 और अंडर-14 के जिसमे शौर्या ने 48 मेडल और कप जीते है।

शौर्या लेफ्ट हैंड बैट्समैन ऑलराउंडर है वह दीपक सिंघल के अंदर क्रिएटिव स्टार्स क्रिकेट एकेडमी में प्रैक्टिस करता है। शौर्या के आइडियल क्रिकेटर में क्रिकेट के भगवान सचिन तेंदुलकर तथा एक अन्य विकेटकीपर बैट्समैन श्री लंका के कुमार संगाकारा है।

अब तक शौर्या ने बहुत से टूर्नामेंट खेले है जिसमे मैन ऑफ द मैच व सीरीज हुई है।

शौर्या को आवर्ड देते हुए

शौर्या के पिता जितेंद्र ने बताया कि मेरा परिवार 30 साल पहले पंजाब के पटियाल में रहता था अब सभी दिल्ली में रहते है हालांकि मैंने कभी स्पोर्ट्स में कुछ नही किया लेकिन मेरे पिता जी (शौर्या के दादा जी) एक बहुत प्रसिद्ध कब्बडी ख़िलाडी थे उन्हें बहुत से अवॉर्ड भी मिले है कब्बडी में ।।

शौर्या पंडित इतने टैलेंट है कि आगे चलकर जरूर यह देश के लिए क्रिकेट खेलेंगे इनके क्लासिकल शॉर्ट्स देख के ही लोग इनकी तुलना भारत के पूर्व क्रिकेटर गौतम गंभीर व भारतीय टीम के पूर्व सफल कप्तान में से एक सौरभ गांगुली से करते है।।बस इसके टैलेंट को देखने के लिए वह नजरिया चाहिए जो शौर्या को सही स्थान दिला सके।।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here